माँ दुर्गा लोगो
Goddess Maa Saraswati
http://hi.jaidevimaa.com/=>goddess=>maa-saraswati =>maa-saraswati-aarti-2.php
माँ दुर्गा मुख्य देवीमाँ वैष्णो देवी पूजन विधि साईटमेप


माँ सरस्वती की आरती हे शारदे माँ

यह आरती लगभग सभी विद्यालयों में विधार्तीयो के द्वारा की जाती है | इस आरती में देवी सरस्वती से विनती की जाती है अपनी कृपा भरी विद्या प्रदान करे और अज्ञानता को दूर कर दे | हे शारदे माँ , हे शारदे माँ
हे शारदे माँ , हे शारदे माँ
अज्ञानता से हमें तारदे माँ
तू स्वर की देवी ये संगीत तुझसे ,
हर शब्द तेरा है हर गीत तुझसे
हम है अकेले , हम है अधूरे ,
तेरी शरण हम हमें प्यार दे माँ ॥हे शारदे माँ॥
मुनियों ने समझी , गुनियों ने जानी ,
वेदोंकी भाषा , पुराणों की बानी
हम भी तो समझे , हम भी तो जाने ,
विद्या का हमको अधिकार दे माँ ॥हे शारदे माँ॥
तू श्वेतवर्णी कमल पे विराजे , हाथों में वीणा , मुकुट सरपे साजे
मनसे हमारे मिटाके अँधेरे ,
हमको उजालों का संसार दे माँ ॥हे शारदे माँ॥
हे शारदे माँ , हे शारदे माँ .
अज्ञानता से हमें तारदे माँ

माँ सरस्वती वंदना

हे हंसवाहिनी, हे शारदे माँ,
विद्या का तू उपहार दे माँ,
जीवन पथ पर बढ़ती जाऊँ,
अपनों का विश्वास बनूँ माँ,
अंधियारे को दूर भगा दूँ,
ऐसी तेरी दास बनूँ माँ,
तेरी महिमा जग में गाउँ ,
अधरों को तू उदगार दे माँ,
हे हंसवाहिनी, हे शारदे माँ,
विद्या का तू उपहार दे माँ,
मधु का स्वाद लिए है ज्यो अब,
विष का भी मैं पान करूँ माँ,
फूलों पर जैसे चलती हूँ,
शूलों को भी पार करूँ माँ,
तूफानों में राह बना लूँ,
ज्ञान का तू भण्डार दे माँ ,
हे हंसवाहिनी, हे शारदे माँ,
विद्या का तू उपहार दे माँ..

(Anita Maurya )

माँ सरस्वती की महिमा

माँ सरस्वती आरती

माँ सरस्वती चालीसा

माँ सती की कहानी

माँ पार्वती के 108 नाम